Yuvraj Singh retires: Yuvi and his love for the big moments

Yuvraj Singh brought the curtains down on his decorated cricket career on Monday as he announced his retirement from international cricket in a press conference in Mumbai. The celebrated cricketer and one of the biggest match-winners the country has ever ...

Monday, June 10, 2019

Related news

Yuvraj Singh Retirement: युवी के संन्यास के बाद सहवाग ने शेयर की ऐसी PHOTO, लिखी ये बात

Yuvraj Singh Retirement: युवराज सिंह ने सोमवार को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने की घोषणा की जिसके साथ ही उनके उतार चढ़ाव वाले करियर का भी अंत हो गया। इसके बाद उनके क्रिकेट करियर में साथी खिलाड़ी रहे टीम इंडिया के पूर्व सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने ट्विटर पर एक तस्वीर साझा की है। इस तस्वीर में वीरेंद्र सहवाग युवराज सिंह के साथ दिख रहे हैं। ट्विटर पर फोटो शेयर करते हुए वीरेंद्र सहवाग ने लिखा है कि खिलाड़ी आएंगे और जाएंगे। लेकिन युवराज सिंह जैसा खिलाड़ी बहुत मुश्किल से मिलेगा। खिलाड़ी आएंगे और जाएंगे, लेकिन युवराज सिंह जैसे खिलाड़ी बहुत कम मिलेंगे।

युवराज सिंह ने इंटरनैशनल क्रिकेट से संन्यास लिया

युवी बोले, 'सचिन ने मुझसे कहा था कि तुम्हें तय करना है कि कब अपना करियर खत्म करना है, तुमसे बेहतर कोई भी यह फैसला नहीं ले सकता।' पंत को सराहा, बताया किस बात का मलाल युवराज से पूछा गया कि उन्हें किस बात का मलाल रहेगा। इसपर वह बोले कि उन्हें ज्यादा टेस्ट मैच न खेलने का मलाल रहेगा। अगले सवाल में उनसे पूछा गया कि किस खिलाड़ी में वह अपनी छवि देखते हैं। इसपर वह बोले कि ऋषभ पंत अच्छे खिलाड़ी हैं और उनमें उन्हें अपनी छवि दिखती है। टीम इंडिया की वर्ल्ड कप 2011 जीत में वह सबसे बड़े हीरो साबित हुए थे और इस टूर्नमेंट में उन्होंने गेंद और बल्ले दोनों से खुद को बार-बार साबित किया था।

युवी ने खुद बताया ये बन सकते हैं भारतीय क्रिकेट टीम के अगले 'युवराज सिंह'

नई दिल्ली, जेएनएन। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कहने वाले युवराज सिंह (Yuvraj Singh) अब टीम इंडिया के लिए खेलते हुए कभी नहीं दिखेंगे। युवी ने टीम इंडिया के लिए जो किया उसे शायद ही भारतीय क्रिकेट फैंस कभी भुला पाएंगे। अपने क्रिकेट करियर में युवी ने भारतवर्ष को जो खुशियां दी हैं अब वो इतिहास जरूर बन गई हैं, लेकिन युवी हर दिल अजीज हमेशा ही बने रहेंगे। युवी अपने रिटायरमेंट के एलान के वक्त दुखी जरूर थे क्योंकि उन्हें काफी लंबे वक्त से मौका नहीं मिल रहा था। उन्होंने कहा कि मैंने पिछले आइपीएल के वक्त ही सोच लिया था कि एक वर्ष के बाद वो अपने क्रिकेट करियर पर फैसला ले लेंगे ...