Saraswati puja 2019: आज इस तरह करें सरस्वती पूजा, जानें मंत्र और पूरी पूजा विधि

आज पूरे देश में वसंत पंचमी (Basant Panchami) का त्योहार मनाया जा रहा है। पंचमी तिथि शनिवार 9 फरवरी को दिन में 8 बजकर 55 मिनट से लग रही है, जो रविवार 10 फरवरी को दिन में 9 बजकर 59 मिनट तक रहेगी। उदया तिथि ग्राह्य होने से 10 फरवरी को ही वसंत पंचमी मनाई जाएगी। इस दिन मां सरस्वती की पूजा का विशेष दिन माना जाता है और मां सरस्वती ही बुद्धि और विद्या की देवी हैं। मान्यता है कि जिस छात्र पर मां सरस्वती की कृपा हो उसकी बुद्धि बाकी छात्रों से अलग और बहुत ही प्रखर होती है। सरस्वती पूजा विधि और मंत्र. मां सरस्वती की प्रतिमा अथवा तस्वीर को सामने रखकर उनके सामने धूप-दीप, अगरबत्ती, गुगुल ...

Saturday, February 9, 2019

Related news

बसंतोत्सव / भारत से ज्यादा बांग्लादेश में धूमधाम से मनाई जाती है बसंत पंचमी, पाकिस्तान में उड़ती हैं पतंगें

बहुत कम लोग जानते हैं कि बसंत पंचमी पाकिस्तान में कई जगहों पर धूमधाम से मनाया जाता है। यहां रहने वाले पंजाबियों के लिए भी यह खास आयोजन होता है। यहां इस त्योहार की खास बात पतंगबाजी होती है। कई जगह पतंगोत्सव के आयोजन होते हैं और लोग इकट्ठा होते हैं। पाकिस्तान में कई जगहों पर मांझे से पतंग उड़ाना मना है, इसकी वजह आतंकी गतिविधियां बताई जाती हैं। इसके अलावा यहां पीले फूलों की बारिश की जाती है जिसमें लोग खुशी से सराबोर नजर आते हैं। पाकिस्तानी प्रशासन का मानना है कि पतंग उड़ाने के लिए जिन तारों का इस्तेमाल करते हैं उनमें कई बार लोग ऐसी चीजें मिला देते हैं जो ...

हजरत निजामुद्दीन औलिया की दरगाह पर मनाया गया बसंत उत्सव

महिलाओं ने उन्हें बताया कि आज बसंत पंचमी है और बसंत ऋतु के आने की खुशी में हम लोग देवी माता के मंदिर में पूजा-अर्चना करने जा रहे हैं. सभी महिलाओं ने पीले वस्त्र भी धारण कर रखे थे और उनके आगे ढोल वाला ढोल बजा रहा था. अमीर खुसरो ने भी ठीक वैसा ही रूप धारण किया और गर्दन में ढोल डाले अपने पीर व मुर्शिद ख्वाजा निजामुद्दीन औलिया के सामने हाजिर हुए. इसपर हजरत निजामुद्दीन औलिया मुस्कुरा दिए. दरअसल, उनके भांजे का निधन हो गया था और इसकी वजह से वह काफी उदास रहते थे. तभी से दरगाह में हर साल बसंत के मौके पर यह कार्यक्रम मनाने की परंपरा शुरू हो गई जो कि आज तक जारी है. दरगाह के चीफ ...
Saturday, February 9, 2019