माता लक्ष्मी का दीपक इस तरह बदल सकता है आपका जीवन

कहते हैं कि भौतिक संसाधनों की प्राप्ति के लिए सकारात्मक और नकारात्मक शक्तियों नें मिलकर समुद्र को मथा, खंगाला और परिणाम स्वरूप नकारात्मक और सकारात्मक दो प्रकार की ऊर्जा प्राप्त हुई। जिसे अमृत, धन या लक्ष्मी, हलाहल जैसे अलंकारों से नवाजा गया, जिसने कालांतर में जिंदगी की सूरत भी बदली और मआनी भी। पर क्या कारण है कि इतनी बड़ी किसी घटना के सुराग जंबू द्वीप के परे नजर नहीं आते। वो मंथन वस्तुतः बाह्य समुद्र से ज्यादा आंतरिक और मानसिक मंथन अधिक प्रतीत होता है। निश्चित रूप से, वह मंथन भौतिक न होकर कार्मिक, मानसिक और आध्यात्मिक था। मंथन में जो भी रत्न निकले, ...